शुक्रवार, 2 अप्रैल 2021

कैम्फोरा ( CAMPHORA ) के व्यापक लक्षण, मुख्य रोग व फायदें

कैम्फोरा ( CAMPHORA ) के व्यापक लक्षण, मुख्य रोग व फायदों का वर्णन -

  • हैजे की प्रथम अवस्था में व अन्य औषधियाँ 
  • त्वचा की शीत अवस्था  
  • त्वचा की शीत अवस्था में गर्मी के दौरे  
  • मासिक धर्म के समय ठंडा शरीर  
  • पेशाब की जलन में  
  • जीवन शक्ति का पतन

" कैम्फोरा की प्रकृति "

स्राव खुल कर जाने से और गर्मी से रोग के लक्षणों में कमी आती हैं। जबकि ठंडी हवा से, हरकत से और रात को रोग के लक्षणों में वृद्धि होती हैं।

" हैजे की प्रथम अवस्था में व अन्य औषधियाँ " 

हैजे में सर्वप्रथम कय व दस्त के लक्षण प्रकट होते हैं और बाद में कमजोरी आती हैं। तो सबसे पहले कैम्फोरा औषधि प्रयोग की जाती हैं । इसका प्रभाव बहुत क्षणिक होता है , इसलिए शुरू में हर पांच मिनट में तब तक देते रहना चाहिए, जब तक शरीर में गर्मी न आ जाए । कैम्फोरा के अतिरिक्त हैजे की अन्य दो दवाएं हैं - क्यूप्रम और वेरेट्रम ऐल्बम । तीनों को विस्तार से समझते हैं -

>> हैजे में कैम्फोरा के लक्षण - हैजे में सबसे अधिक शीत कैम्फोरा के रोगी को लगती हैं । वह इतना ठंडा होता हैं, कि जैसे मरा पड़ा हो ।  कैम्फोरा के रोगी शीत लगती हैं , लेकिन फिर भी वह शरीर पर कपड़े बर्दाश्त नहीं कर पाता और उतार फेंकता हैं । ठंडा शरीर होने पर भी दरवाजे - खिड़कियां खुली रखना पसंद करता हैं । परन्तु कैम्फोरा के रोगी को बीच बीच में ऐंठन भी होती रहती हैं, जिसके कारण उसे दर्द होता हैं । और जब ये ऐंठन होती हैं, तब वह कपड़े ओढ़ना चाहता हैं और दरवाजे - खिड़कियां बन्द करना पसंद करता हैं ।  कैम्फोरा में खुश्क हैजा भी होता हैं, जिसमें शरीर ठंडा , रंग नीला पड़ जाता हैं और कय दस्त न के बराबर होते हैं ।  

>> हैजे मे क्यूप्रम के लक्षण - क्यूप्रम के हैजे में रोगी को ऐंठन ज्यादा होती हैं । इसमें हैजे के अन्य लक्षण तो होते हैं, लेकिन ऐंठन को प्रधान लक्षण  माना जाता हैं । रोगी इन ऐंठनों से चिल्लाने लगता हैं । ऐंठनों की प्रधानता में क्यूप्रम लाभप्रद होती हैं । 

>> हैजे में वेरेट्रम ऐल्बम के लक्षण - शरीर के स्रावों की प्रधानता का लक्षण वेरेट्रम ऐल्बम का हैं। वेरेट्रम ऐल्बम में अधिक दस्त, अधिक पसीना और अधिक कय होती हैं । इसके रोगी को गर्म बोतल और गर्म पानी अच्छा लगता हैं। 

" त्वचा की शीत अवस्था "

इस औषधि का एक अद्भुत लक्षण यह हैं कि सारा शरीर बर्फ की तरह ठंडा होता हैं। लेकिन फिर भी रोगी किसी भी प्रकार का कपड़ा शरीर पर बर्दाश्त नहीं कर सकता और उतार फेंकता हैं । यदि किसी भी बीमारी में ये लक्षण पाए जाए तो कैम्फोरा इस रोग को दूर कर देती हैं । 

" त्वचा की शीत अवस्था में गर्मी के दौरे "

कैम्फोरा के रोगी की त्वचा शीत प्रधान होने पर भी वह कपड़ा उतार फेंकता हैं। लेकिन जब उसका शरीर ठंडा हो रहा होता हैं , तो साथ ही उसे गर्मी का दौर भी पड़ता हैं , जिससे कि वह दरवाजे और खिड़कियां खोलने को कहे , वह इस गर्मी के दौर के कारण उन्हें बन्द कर देने और शरीर पर कपड़ा ओढ़ने को कहने लगता हैं । यह अवस्था भी शीघ्र ही समाप्त हो जाती हैं, और वह फिर शीत अवस्था में आ जाता हैं । 

" मासिक धर्म के समय ठंडा शरीर "

स्त्रियों में जब मासिक धर्म बन्द होने लगता हैं , तब उन्हें गर्मी लगती हैं और मुंह पर पसीना आ जाता हैं । उसे बंद कमरे में कष्ट होता हैं , वह खुला व हवादार कमरा पसन्द करती हैं। उन्हें जब शरीर ठंडा अनुभव होता हैं , तब शरीर को गर्म करने के लिए वे कपड़ा नहीं ओढ़ती  । ऐसी अवस्था में कैम्फोरा बहुत ही लाभप्रद औषधि हैं । 

" पेशाब की जलन में "

इसका रोगी पेशाब के लिए जोर लगाता हैं , लेकिन पेशाब नहीं निकलता । क्योंकि मुत्राशय के मुख में ऐंठन होती हैं , इस कारण पेशाब में असमर्थता होती हैं । पेशाब बूंद बूंद कर आता हैं, जिसमें हल्के खून का मिश्रण होता हैं । इन लक्षणों में कैम्फोरा से लाभ होता हैं । 

" जीवन शक्ति का पतन "

जब जीवन शक्ति की पतन अवस्था आ जाती हैं, तब शरीर बिल्कुल ठंडा पड़ जाता हैं , मनुष्य मरणासन्न अवस्था में हो जाता हैं, नाड़ी धीमी पड़ जाती हैं , शरीर का तापमान अत्यंत नीचे चला जाता हैं और ब्लड प्रेशर कम हो जाता हैं।  ऐसी अवस्था प्राय: ऑपरेशन के बाद या हैजे की हालत में होती हैं।  इस अवस्था से बाहर रोगी को कैम्फोरा निकाल सकती हैं । 

" कैम्फोरा औषधि के अन्य लक्षण "

जुकाम , इन्फ्लुएंजा में, ठंडे , चिपचिपे व कमजोर करने वाले पसीने में, हृदय में छाती के ऊपर के हिस्से में घबराहट और  सांस लेने में कठिनाई में  कैम्फोरा लाभप्रद करती हैं ।

" कैम्फोरा की शक्ति तथा प्रकृति "

कैम्फोरा स्पिरिट को सूंघना या मदर टिंचर की 1 से 5 बूंद बार - बार लेने पर अधिक लाभ करती हैं । इसकी 30 व  उच्च शक्ति अधिक लाभप्रद होती है । यह औषधि शीत प्रकृति की हैं ।


0 comments:

एक टिप्पणी भेजें