सोमवार, 15 फ़रवरी 2021

ऐपोसाइनम औषधि ( APOCYNUM ) के व्यापक लक्षण, मुख्य रोग व फायदे

ऐपोसाइनम औषधि ( APOCYNUM ) के व्यापक लक्षण, मुख्य रोग व फायदों का विस्तार पूर्वक वर्णन -

  • शोथ में सर्दी से शिकायते बढ़ना  
  • रोगी पानी खूब पीने पर भी पेशाब व पसीना न आना
  • जलघर रोग में लाभप्रद  
  • बच्चों के सिर में पानी का भरना 
  • शोथ में बिमारी का लम्बा चलना

ऐपोसाइनम औषधि प्रकृति - गर्मी से रोग के लक्षणों में कमी आती हैं। ठंडे मौसम में, ठंडे पानी से, कपड़े उतारने से रोग के लक्षणों मे वृद्धि होती हैं।


शोथ में सर्दी से शिकायतें बढ़ना - शोथ में एपिस मेलिफिका तथा ऐपोसाइनम के लक्षणों में समानता हैं । शोथ के लक्षणों में इतनी समानता है कि अगर ' सर्दी से रोग का बढ़ना ' इस लक्षण को छोड़ दिया जाए , तो चिकित्सक एपिस मेलिफिका दे देते हैं । परन्तु एपिस मेलिफिका तथा ऐपोसाइनम में प्रमुख अंतर यह है कि एपिस मेलिफिका का शोथ गर्मी से बढ़ता और ठंड से घटता हैं, जबकि ऐपोसाइनम का शोथ गर्मी से घटता और ठंड से बढ़ता हैं । समान लक्षण में औषधि का चुनाव उसकी प्रकृति से करना चाहिए कि वह शीत प्रधान है या ऊष्ण प्रधान । 


रोगी पानी खूब पीने पर भी पेशाब व पसीना न आना -  ऐपोसाइनम का रोगी खूब पानी पीता है , परन्तु उसे पसीना और पेशाब बिल्कुल भी नही आता । रोगी सोचता है कि अगर उसे पसीना आ जाए तो वह ठीक हो सकता हैं ।  यह पानी उसके शरीर के कोष्ठको में भर जाता है और इसी से शोथ होती है । इसी शोथ और जल संचय के कारण रोगी ठंड को बर्दाश्त नही कर पाता हैं, तो ऐपोसाइनम ठीक कर देती हैं।


जलघर रोग में लाभप्रद - जलघर रोग में जब एपिस , ऐपोसाइनम , डिजिटेलिस दवाए काम नही करती हैं , तो वहा ब्लैटा ओरियेन्टेलिस अच्छा काम करती हैं । ग्लैटा ओरियेन्टेंलिस विशेष कर दमे में दी जाती हैं । इसकी 2-3 बूंद बार - बार देनी होती है । 


बच्चों के सिर में पानी का भरना - शरीर के किसी अंग में पानी का भर जाना इस औषधि का चरितगत, सर्वांगीण और व्यापक  लक्षण हैं । इसी आधार पर हाइड्रोसेफेलस रोग में ( बच्चे के सिर मे पानी जमा होना ) यह औषधि अच्छा लाभ करती हैं । 


शोथ में बिमारी का लम्बा चलना - कई बार बीमारी बहुत लम्बी चलती हैं। बीमारी के लक्षण जल्दी नहीं जाते, रोगी अत्यंत निर्बल , क्षीण और रक्तहीन हो जाता हैं । प्यास लगती हैं परन्तु पेशाब और पसीना बहुत कम आता हैं, शोथ के लक्षण दिखने लगते हैं । प्राय: टाइफॉयड आदि में जो लक्षण देर तक ठीक नही होते । ऐसी अवस्था में यह औषधि लाभप्रद होती हैं । 


ऐपोसाइनम की शक्ति व प्रकृति - यह औषधि 3,6 व अधिक शक्ति में उपलब्ध हैं । यह औषधि शीत  प्रकृति की हैं ।


0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें